भविष्य की योजनाएं

  • ब्रज संस्कृति के विविध दुर्लभ पक्षों पर विभिन्न वृहद कोशों का निर्माण तथा अन्तर्राष्ट्रीय संगोष्ठी के आयोजन ।
  • पाण्डुलिपिपरक ज्ञानाधारित ग्रन्थ संरक्षण तथा अन्य पाठ्यक्रमों का संचालन ।
  • पर्यटकों, जिज्ञासुओं के लाभार्थ संस्थान में ब्रज संस्कृति से सम्बन्धित वृत्तचित्र, संगीत, काव्य आदि की रिकॉर्डिंग एवं एडिटिंग के लिए समस्त सुविधाओं से सुसज्जित (Well Equipped) स्टूडियो का निर्माण।
  • ग्रंथागार एवं संग्रहालय गैलरियों का द्वितीय तल पर विस्तार ।
  • संस्थान परिसर के हरीतिमा-युक्त वातावरण में ‘शान्तिनिकेतन’ (शोध अध्ययन केन्द्र) का निर्माण ।
  • ब्रज संस्कृति संग्रहालय के सामने मुख्य द्वार का निर्माण।
  • लाइट एवं साउण्ड के माध्यम से ब्रज संस्कृति के दिग्दर्शन की योजना का क्रियान्वयन ।
  • संस्थान परिसर में सोलर लाइटिंग की व्यवस्था ।
वृन्दावन शोध संस्थान
Logo